Monday, April 16

Rohit Sharma Biography In Hindi | क्रिकेटर रोहित शर्मा की जीवनी

रोहित शर्मा की जीवनी | Rohit Sharma Biography Hindi


Rohit Sharma Biography Hindiदोस्तो आज हम बात करेंगे भारतीयों क्रिकेट टीम के शानदार बल्लेबाज़ रोहित शर्मा की जिनकी अपने अलग ही अंदाज़ में जबरदस्त बल्लेबाज़ी के लिए जाना जाता है और अभी हाल ही में उन्होंने Sri Lanka कर खिलाफ दोहरा शतक मारकर ,3 दोहरा शतक मारने वाले दुनिया के पहले बैट्समैन बन गए.

Rohit Sharma Biography In Hindi  | क्रिकेटर रोहित शर्मा की जीवनी

आज के समय मे रोहित शर्मा अपने Cricketing Career में बुलंदियों पर है और एक के बाद एक नए Record बनाते जा रहे है । लेकिन क्या आपको पता है Rohit के Life में एक ऐसा समय नही था की पैसों की कमी की वजह से उन्हें अपने माता पिता से दूर रहना पड़ा था । स्कूल में फीस भरने के लिए उनके पास पैसे नही थे लेकिन अपनी मेहनत और लगन के के  बलबुते उन्होंने अपनी पूरी दुनिया मे नाम कमाया तो आइए Rohit Sharma के जीवनी के बारे में जानते हैं ।

Rohit Sharma Biography In Hindi  | क्रिकेटर रोहित शर्मा की जीवनी


Rohit Sharma का जन्म 23 April 1987 को Nagpur के Bansod नाम के जगह पर हुआ था या। उनकी माँ का नाम Purnima Sharma और पिता का नाम Gurunath Sharma है । जो कि एक Transport Firm की देखभाल करते थे घर की आर्थिल स्तिति बहुत खराब थी जिनकी वजह से Rohit का ज़्यादातर बचपन अपनी दादा दादी के वह पे बिता जो कि Borowali में रहते थे और रोहित अपनी Mummy पापा से मिलने के लिए हफ्ते में कभी कभी Dombivali आया करते थे ।हालांकि रोहित को क्रिकेट कक शौक बचपन से ही था और यश शौक को देखते हुए उनके Uncle ने उनकी आर्थिक मदद की । जिसके बाद रोहित ने 1999 में रोहित ने क्रिकेट Academy Join किया

जहा पर रोहित के Coach दिनेश लड़ थे । जिन्होंने क्रिकेट के प्रति रोहित के जबरदस्त लगाव देखा और उन्हें स्कूल बदलने की सलाह दी । दरअसल स्वामी विवेकानंद इंटरनाशन्सल स्कूल में क्रिकेट की अच्छी सुविधा थी एयर क्रिकेटिंग कैरियर के तरफ से देखा जाए तो यह स्कूल उस समय के Best स्कूल में से एक था ।हालांकि रोहित यह कि Fees afford नही कर पाते थे और उनकी परेशानियों को देखते हुए  दिनेश ने उनकी सहायता की और रोहित को schoolarship दिलवायी । जिससे कि अगले 4 सालो तक उनकी फीस माफ हो गयी इस स्कूल में पढ़ाई के साथ साथ रोहित के खेल कूद में काफी निखार आया । और दोस्तो सबसे खास बात यह है कि Rohit Sharma अपने शुरुआती समय मे Off Spinar हुआ करते थे । लेकिन दिनेश लड़ ने उनके Talent को पहचानते हुए 8 no पर खेलने की वजाए उनसे Opening करवाई और इस तरह से रोहित ने बतौर opener अपने स्कूल क्रिकेट टूर्नामेंट में सेंचुरी लगाया । स्कूलिंग के 4 सालो में रोहित ने अपनी कड़ी मेहनत के दम पर क्रिकेट के सकभी Stratagy को समझा और उनकी मेहनत उनकी बॉलिंग से साफ झलकने लगी ।

रोहित शर्मा ने 2005 में देवधर ट्रॉफी में West Zone की तरफ से खेलते हुए अपनी Domestic कैरियर की शुरुआत की और उन्होंने अपना पहला मैच Central Zone के खिलाफ Gualir में खेला था लेकिन उनकी पहचान लोगो के बीच तब हुई जब North Zone के खिलाफ उन्होंने 123 गेंद पर शानदार 142 रन की पारी खेली और फिर आगे भी उन्होंने India A के लिए खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया जिससे कि उन्हें चैंपियंस  ट्रॉफी के सम्भावित 30 खिलाड़ियों में शामिल कर लिया गया ,हालांकि फाइनल Selection में वो Select नही हो पाए और यह रणजी ट्रॉफी में डेब्यू करने से पहले की बात थी ।रणजी में उन्होंने 2006-07 में डेब्यू किया । लेकिन वो यह पर कुछ खास परफॉरमेंस नही दे पाए लेकिन उन्होंने गुजरात के खिलाफ 2005 रन की पारी खेली थी । जो कि शायद उनके Professional कैरियर के पहला दोहरा शतक तक तो चलिए दोस्तो अब जानते है रोहित शर्मा के International Career के बारे में


रोहित शर्मा के international डेब्यू 2007 में शुरू हुआ । जब उन्हें Ireland के खिलाफ खेले जकने वाले Tournament में Select किया गया हालांकि उन्हें series के केवल एक ही मैच खेलने का मौका मिला था । लेकिन उसमें भी वो कुछ खास नही कर पाए ।आगे चलकर 2007 में ही T20 वर्ल्ड कप में South Africa के खिलाफ 40 Balls पर 50 Runs की पारी खेली थी और शायद यही उनके Career का Turning Point था .ईश मैच को भारत ने जीतकर Semi फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली और रोहित मैन ऑफ द मैच बने रहे । इसके बाद इन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ 30 रन की उपयोगी पारी खेली । आगे चलकर ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाली Commonwealth Burning Series में उन्होंने 2 हाफ सेंचुरी लगाए

लेकिन इस Series के बाद उनका Performance थोड़ा डग मगा गया जिस वजह से टीम से उन्हें बाहर निकल दिया गया । उसमे बाद 2009 में Ranji Trophy में रोहित शर्मा के शानदार ट्रिपल सेंचुरी लगाने के बाद उनके टीम में फिर से वापसी हुई और फिर उन्हें बांग्लादेश में खेले जाने वाले ODI के लिके Select कर लिया गया लेकिन Suresh Raina और कोहली की फॉर्म1 में होने की वजह से उन्हें Playing 11 में मौका नही मिला । आगे चलकर उन्होंने ज़िम्बाब्वे के खिलाफ 2010 में अपना पहला सेंचुरी लगाया और अगले ही मैच में फिर से शतक जड़ कर उन्होंने भारतीय टीम में अपनी जगह बना ली । आगे चलकर रोहित शर्मा को शिखर धवन के साथ इंडियन टीम का ओपनर बनाया गया । और इन दोनों ने मिलकर टीम को championship जीताने में काफी मदद की .

फिर 2013 में ऑस्ट्रलिया के Against Double सेंचुरी जड़कर रोहित अधर्म ने नामुमकिन लगनेवाले कारनामा कर दिखाया और आगे भी उन्होंने Sri Lanka के खिलाफ 2 और भी शतक लगाया. रोहित शर्मा दुनिया के एक मात्र बल्लेबाज़ है जिसने ODI क्रिकेट में 3 Double Century लगाने कक Record है और अभी हाल ही में Sri Lanka के विरुद्ध ही Rohit Sharma ने अपनी शानदार बल्लेबाजी से एक और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया जहा ओआर उन्होंने केवल 35 गेंदों ओआर 100 रन बनाकर t20 में सबसे तेज़ शतक की बराबरी कर ली और वो IpL में Mumbai Indians Team के Captain है ।


अगर रोहित शर्मा के पर्सनल लाइफ के बारे में बात करे तो उन्होंने 2015 में अपना बचपन की Friend Ritika सजदेह के साथ शादी कर ली . तो दोस्तो यह थी रोहित शर्मा की सफलता की कहानी जिन्होंने गरीबी तक का ये सफर तय किया ।एक लड़का जिसका एक समय कू बजी अस्तितव नही था आज वो देश के Youth के लिए Role Model बन चुका है ।

दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट  Rohit Sharma Biography In Hindi  पसंद आया तो इससे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना ।

0 comment: